Ch-3 |  पृथ्वी की गतियां | NCERT 6th Class

Ch-3 |  पृथ्वी की गतियां | NCERT 6th Class

कक्षा छठी के पाठ्यपुस्तक भूगोल का अध्याय 3 पृथ्वी की गतियां में बताया गया है कि पृथ्वी किस प्रकार से गति करती है पृथ्वी की गति घूर्णन और परिक्रमण में क्या अंतर होता है| विद्यार्थियों के लिए भूगोल की अध्याय 3 पृथ्वी की गतियां का सारांश यहां पर अच्छी तरीके से बताया गया है और यह भी समझाया गया है कि घूर्णन और परिक्रमण में क्या अंतर होता है

1) पृथ्वी की गति दो प्रकार की होती है एक घूर्णन और दूसरा परिक्रमण|

2) जब पृथ्वी अपने अक्ष पर घूमती है तो उसको घूर्णन कहते हैं जबकि जब पृथ्वी सूर्य का परिक्रमा करती है तो उसको परिक्रमण कहते हैं|

3) प्राचीन भारतीय खगोल शास्त्री आर्यभट्ट ने बताया था कि पृथ्वी गोल है और अपने अक्ष पर  घूर्णन करते हैं|

4) जब पृथ्वी अपने अक्ष पर घूर्णन करते हैं तो इससे दिन और रात बनते हैं|

5) पृथ्वी सूर्य का परिक्रमा 365 दिन 6 घंटे में लगा लेती है सुविधा के लिए 6 घंटे को नहीं जोड़ते और उसको इकट्ठे जोड़कर 4 साल में 1 दिन एक्स्ट्रा डाल देते हैं जिसको लीप वर्ष के नाम से जाना जाता है|

6) लीप वर्ष हर साल फरवरी के महीने में 1 दिन जोड़ने पर हो जाता है इसमें 28 दिन के बजाय 29 दिन का महीना होता है|

7) 1 साल में पृथ्वी पर कई तरीके के मौसम आते हैं जिससे गर्मी सर्दी बरसात इत्यादि यह सभी पृथ्वी जब सूर्य का परिक्रमा करती है तभी यह मौसम बदलते हैं|

8) 21 जून को उत्तरी ध्रुव का हिस्सा सूर्य की तरफ काफी झुका होता है जिसकी वजह से उत्तरी ध्रुव के इलाके में दिन बड़ा और रात छोटी होती है|

9) 22 दिसंबर को दक्षिणी गोलार्ध सूर्य की तरफ काफी झुका हुआ होता है जिसकी वजह से दक्षिणी गोलार्ध में दिन बड़ा होता है और रात छोटी होती है इसके विपरीत उस दिन उत्तरी गोलार्ध में दिन छोटा होता है और रात बड़ी होती है|

10) 21 मार्च और 23 सितंबर को विश्वत रेखा पर सीधी धूप पड़ने की वजह से उत्तरी गोलार्ध और दक्षिणी गोलार्ध दोनों में दिन बराबर होते हैं|

Note: इस अध्याय में हमने जाना कि पृथ्वी जब घूर्णन करती है तब दिन और रात बनते हैं जबकि परिक्रमण करते हैं तो ऐसे मौसम बनते हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

Ch-4 | मानचित्र | NCERT 6th Class

Thu Nov 4 , 2021
Ch-4 | मानचित्र | NCERT 6th Class मानचित्र पृथ्वी की सतह या इसके 1 भाग […]